हिंदू मंदीरों को सरकारी हस्तक्षेप से मुक्त करो

क्या आप जानते है?
1) हिंदू मंदीरों को जो भी दान मिलता है उस संपत्ती पर मंदीरों को इनकम टॅक्स भरना पडता है। इतना ही नही मंदीरों का अकाऊंट भी सरकार के ही कंट्रोल में है। इसके विपरीत दुसरे धर्म जैसे इस्लाम, ख्रिश्चन और अन्य अल्पसंख्यांक धर्मो के मंदीरों को यह नियम लागु नही है।
2) कानुन के तहत हिंदू धार्मिक संस्थानों द्वारा चलाए जाने वाले शैक्षणिक संस्थाओं पर सरकार हस्तक्षेप कर सकती है, किंन्तु यही नियम दुसरे अल्पसंख्यांक समुदायोंद्वारा चलाए जाने वाले शैक्षणिक संस्थाओं पर लागु नही होता है, सरकार उनकेद्वारा चलाए जाने वाले संस्थाओं के नियमों मे हस्तक्षेप नही कर सकती।
3) हिंदू धर्म के मंदीरों के पुजारीयों को उनकेही मंदीरों के व्यवस्थापन में बदलाव करने का अधिकार नही है, जब की अल्पसंख्यांक समुदायों के तीर्थक्षेत्र (मंदीर) के व्यवस्थापन विभाग स्वयं उन्हीके द्वारा चलाए जाते है।
सेक्युलरिझम का नियम क्या सिर्फ हिंदूओं के लिए ही है? इतना बडा भेदभाव क्यों किया जाता है हिंदुओं के साथ?

About the author

Sachin

Hey there !

View all posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *